Skip to main content

Swindle Promotion, Charm and deception

It was two weeks ago. That day I was sitting on the commode in the morning, passing time on mobile. I do not have the habit of watching too much mobile but sometimes I look at mobile at such times. By the way, I like to read a newspaper at such a time even if that newspaper is old. But when there is no newspaper, I time pass on YouTube in mobile. The advantage of this is that along with the rest, there is also a little entertainment. 

Swindle Promotion, Charm and deception
catchy advertisements

That day, while watching YouTube while sitting on the commode, I got an eye on a smartphone ad. The smartphone was so attractive in appearance. All the features of that smartphone were present in 5G, Color Blue, 256GB ROM, 8GB RAM, 8MP Quad Camera, 4000mAh Lithium-ion battery. This much cost only 5,499. My wife's smartphone has started giving a little problem, thought this phone is very good, it is getting so much at a low price. Why not buy this phone and surprise it Later I will show it to friends. Thinking this, I clicked on the link. On clicking, a site named shopmymobile opened and I started looking into the site. And in the spur of the smartphone, I forgot why I am sitting on the commode in the morning.

Swindle Promotion, Charm and deception
tempting offer

It has another offer revealed when the site was opened. The MRP of the smartphone is 13,999, the selling price is 5,499, and if I take this smartphone as per the offer, then I will get this smartphone in 4,499. This was for a limited time and the bottom timer was also on. According to the timer I had six hours.

Swindle Promotion, Charm and deception
affordable price

This website was never heard of and seen. The website was very well maintained. Thought let's check a little more. I started watching the review. The reviews were all good. Everyone was praised by the smartphone and they all gave good ratings. I thought I would take it now After processing the order, I started searching for cash on delivery option

There was no option of cash on delivery, instead the message was that due to corona and for security reasons, the facility of cash on delivery cannot be provided. Thought let's deal with commode work, I will order from my room with a credit card. I have been sitting on the commode for so long, everyone must be thinking that it has been sitting inside for so long.

Then thought that by then I will share with my friends on WhatsApp. I also know his thoughts. By the way, when I think of buying some such thing, then I share my friend circle and take their opinion. But later this time it was thought that their opinion should be taken. But there is no option to share in this.

Swindle Promotion, Charm and deception
use of smartphone

Then I thought that if I made the payment first and they did not send me the smartphone, then how will I be able to withdraw my money? My money will be drowned. Now the time of lockdown is going on and I have not done any new job yet. The payment for the work that I have started from home has not started yet. In such a situation, it is not right to take this risk. In the evening, I will talk to a friend about this.

Swindle Promotion, Charm and deception
Consider

But in the evening I could not meet any friends. Afterwards I thought I would find out about it on Google. When researched about it on Google and watched some videos, it was found out that the website and the offer of that smartphone is a hoax. Well I did not pay and my money was saved.

It is not necessary that the thing should be attractive in appearance, cheap, it should be good and trustworthy. Here are some things to keep in mind while shopping online -

How much do we know about the website we are shopping from. Can we trust that website based on that information?

Is that website reliable?

If we like something, then talk to your friends about it and get to know their views. If you can, share it too.

Always be cautious before paying. Direct payment as far as possible Avoid.

Make more use of cash on delivery.

Also know about any website and offer on Google and YouTube.

And in this way we can avoid being cheated online.

Swindle Promotion, Charm and deception
All the best

Click for Hindi

Comments

Popular posts from this blog

वह दिन - एक सच्चा अनुभव

 सुनें 👇 उस दिन मेरे भाई ने दुकान से फ़ोन किया की वह अपना बैग घर में भूल गया है ,जल्दी से वह बैग दुकान पहुँचा दो । मैं उसका बैग लेकर घर से मोटरसाईकल पर दुकान की तरफ निकला। अभी आधी दुरी भी पार नहीं हुआ था की मोटरसाइकल की गति अपने आप धीरे होने लगी और  थोड़ी देर में मोटरसाइकिल बंद हो गयी। मैंने चेक किया तो पाया की मोटरसाइकल का पेट्रोल ख़त्म हो गया है। मैंने सोचा ये कैसे हो गया ! अभी कल तो ज्यादा पेट्रोल था ,किसी ने निकाल लिया क्या ! या फिर किसी ने इसका बहुत ज्यादा इस्तेमाल किया होगा। मुझे एक बार घर से निकलते समय देख लेना चाहिए था। अब क्या करूँ ? मेरे साथ ही ऐसा क्यों होता है ?  मोटरसाइकिल चलाना  ऐसे समय पर भगवान की याद आ ही जाती है। मैंने भी मन ही मन भगवान को याद किया और कहा हे भगवान कैसे भी ये मोटरसाइकल चालू हो जाये और मैं पेट्रोल पंप तक पहुँच जाऊँ। भगवान से ऐसे प्रार्थना करने के बाद मैंने मोटरसाइकिल को किक मार कर चालू करने की बहुत कोशिश किया लेकिन मोटरसाइकल चालू नहीं हुई। और फिर मैंने ये मान लिया की पेट्रोल ख़त्म हो चूका है मोटरसाइकल ऐसे नहीं चलने वाली।  आखिर मुझे चलना तो है ही क्योंकि पेट

व्यवहारिक जीवन और शिक्षा

सुनें 👇 एक दिन दोपहर को अपने काम से थोड़ा ब्रेक लेकर जब मैं अपनी छत की गैलरी में टहल रहा था और धुप सेंक रहा था। अब क्या है की उस दिन ठंडी ज्यादा महसूस हो रही थी। तभी मेरी नज़र आसमान में उड़ती दो पतंगों पर पड़ी। उन पतंगों को देखकर अच्छा लग रहा था। उन पतंगों को देखकर मैं सोच रहा था ,कभी मैं भी जब बच्चा था और गांव में था तो मैं पतंग उड़ाने का शौकीन था। मैंने बहुत पतंगे उड़ाई हैं कभी खरीदकर तो कभी अख़बार से बनाकर। पता नहीं अब वैसे पतंग  उड़ा पाऊँगा की नहीं। गैलरी में खड़ा होना    पतंगों को उड़ते देखते हुए यही सब सोच रहा था। तभी मेरे किराये में रहने वाली एक महिला आयी हाथ में कुछ लेकर कपडे से ढके हुए और मम्मी के बारे में पूछा तो मैंने बताया नीचे होंगी रसोई में। वो नीचे चली गयी और मैं फिर से उन पतंगों की तरफ देखने लगा। मैंने देखा एक पतंग कट गयी और हवा में आज़ाद कहीं गिरने लगी। अगर अभी मैं बच्चा होता तो वो पतंग लूटने के लिए दौड़ पड़ता। उस कटी हुई पतंग को गिरते हुए देखते हुए मुझे अपने बचपन की वो शाम याद आ गई। हाथ में पतंग  मैं अपने गांव के घर के दो तले पर से पतंग उड़ा रहा था वो भी सिलाई वाली रील से। मैंने प

अनुभव पत्र

सुनें 👉 आज मैं बहुत दिनों बाद अपने ऑफिस गया लगभग एक साल बाद इस उम्मीद में की आज मुझे मेरा एक्सपीरियंस लेटर मिल जाएगा। वैसे मै ऑफिस दोबारा कभी नहीं जाना चाहता 😓लेकिन मजबूरी है 😓क्योंकि एक साल हो गए ऑफिस छोड़े हुए😎।नियम के मुताबिक ऑफिस छोड़ने के 45 दिन के बाद  मेरे ईमेल एकाउंट मे एक्सपीरियंस लेटर आ जाना चाहिए था☝। आखिर जिंदगी के पाँच साल उस ऑफिस में दिए हैं एक्सपीरियंस लेटर तो लेना ही चाहिए। मेरा काम वैसे तो सिर्फ 10 मिनट का है लेकिन देखता हूँ कितना समय लगता है😕।  समय  फिर याद आया कुणाल को तो बताना ही भूल गया😥। हमने तय किया था की एक्सपीरियंस लेटर लेने हम साथ में जायेंगे😇  सोचा चलो कोई बात नहीं ऑफिस पहुँच कर उसको फ़ोन कर दूंगा😑। मैं भी कौन सा ये सोच कर निकला था की ऑफिस जाना है एक्सपीरियंस लेटर लेने।आया तो दूसरे काम से था जो हुआ नहीं सोचा चलो ऑफिस में भी चल के देख लेत्ते हैं😊। आखिर आज नहीं जाऊंगा तो कभी तो जाना ही है इससे अच्छा आज ही चल लेते है👌। गाड़ी में पेट्रोल भी कम है उधर रास्ते में एटीएम भी है पैसे भी निकालने है और वापस आते वक़्त पेट्रोल भी भरा लूंगा👍।  ऑफिस जाना  पैसे निकालने